रूस के विदेश मंत्रालय ने फ़िलिस्तीन तथा इज़राइल के बीच संबंधों में हिंसा में सतत वृद्धि पर चिंता व्यक्त की है। रूसी विदेश मंत्रालय ने अपनी टिप्पणी में 13  तथा 14 फ़रवरी की घटनाओं का उल्लेख किया है जब जॉर्डन नदी के पश्चिमी तट पर इज़राइली सैनिकों पर हमले करने की कोशिश कर रहे 4 किशोरों समेत 6 फ़िलिस्तीनियों की पूर्वी यरूशलेम, हेब्रोन, बेतलेहेम और जेनिन में गोली मार कर हत्या कर दी गयी|

रूसी विदेश मंत्रालय ने टिप्पणी  में कहा है: “हम इज़राइल तथा फ़िलिस्तीन से संयम बरतने व जनता के भविष्य के प्रति उत्तरदायित्व निभाने और स्थिति की उग्रता में कमी लाने के हर संभव प्रयास करने का आग्रह करते हैं|”

व्लादिमीर पुतीन

रूस के विदेश मंत्रालय ने नागरिकों के खिलाफ हिंसा की कार्रवाई बंद करने पर ज़ोर दिया है| साथ ही कहा है कि फ़िलिस्तीनी और इज़राइली संकट के समाधान के लिए स्थिति में नरमी की नितांत आवश्यकता है|

“हम टकराव की वर्तमान स्थिति को आगे बढ़ने से रोकने को अत्यंत महत्वपूर्ण मानते हैं ताकि दोनों देशों द्वारा क्षेत्र की शांति के लिए अंतरराष्ट्रीय कानूनी आधार के अनुसार फ़िलिस्तीनी संकट के समाधान की संभावना बनी रहे” — रूसी विदेश मंत्रालय ने कहा है|


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें