म्यांमार के हिंसाग्रस्त रखाइन प्रांत में एक बार हिंसा से रोहिंग्या मुस्लिमों के खिलाफ हिंसा भड़क उठी है. जिसके चलते एक रोहिंग्या मुस्लिम युवक को बौद्ध समुदाय की भीड़ ने पीट-पीट कर मार डाला. ये पूरी वारदात पुलिस की मौजूदगी में अंजाम दी गई.

ये घटना राजधानी सित्वे में मंगलवार को हुई, मृतक की पहचान मुनीर अहमद के रूप में हुई. जिसकी उम्र करीब 55 साल बताई जा रही है. मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी का कहना है कि भीड़ ने युवक को घेरकर पत्थरों से कुचलकर मार डाला.

और पढ़े -   डोनाल्ड ट्रंप को किम जोंग का जवाब - धमकी से नहीं डरने वाले, हमले के लिए है तैयार

गृह मंत्री के प्रवक्ता कर्नल माओ थू सोई ने कहा, “हमने युवा पुलिसकर्मी से पूछताछ की. उसने बताया कि उन्होंने भीड़ को रोकने की कोशिश की, लेकिन वे स्थिति पर काबू पाने लायक नहीं थे और ऐसे में पुलिस स्टेशन भाग आए” उन्होंने कहा, इस मामलें में किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है. हालांकि मामलें की जांच की जा रही है.

और पढ़े -   काबा के आगे लहराया तिरंगा, हज के दौरान मनाया यौमे आज़ादी

गौरतलब रहे कि 2012 में  राखिन राज्य में बौद्धों की म्यांमार में सबसे गंभीर धार्मिक हिंसा देखि गई, जिसमें सैकड़ों रोहिंग्या मुसलमान मारे गए थे और सांप्रदायिक अशांति में 140,000 से अधिक लोग विस्थापित हुए थे.

म्यांमार 10 लाख से अधिक रोहिंग्या मुसलमानों को नागरिकों के रूप में मान्यता नहीं दी है. म्यांमार से कई लोगों ने बांग्लादेश में अवैध आप्रवासी के रूप में शरण ले रखी है,.

और पढ़े -   सऊदी प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान ने कहा - यमन युद्ध से अब निकलना चाहते है बाहर

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE