hamad

कतर के पूर्व अमीर खलीफा बिन हमद अल थानी का रविवार को 84 वर्ष की उम्र में निधन हो गया हैं. खलीफा बिन हमद अल थानी मौजूदा अमीर तमीम बिन हमद अल थानी के दादा हैं. उन्हें आधुनिक कतर के निर्माण का श्रेय दिया जाता हैं. थानी के निधन के पर क़तर में तीन दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की गई है.

खलीफा बिन हमद अल थानी 971 में ब्रिटेन के आजाद होने के बाद से उन पहले शासकों में शामिल थे जिन्होंने अपने रिश्ते के भाई से सत्ता हासिल की थी. उन्होंने गल्फ कोऑपरेशन काउंसिल की स्थपाना की थी. कतर का अमीर बनने से पहले उन्होंने देश के प्रधानमंत्री, वित्त मंत्री एवं शिक्षा मंत्री के रूप में सेवाएं दे चुके हैं.

तीन दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा के साथ देश में किसी भी विशेष आयोजनों को रद्द किए जाने की संभावना है. हालांकि स्कूलों और कार्यस्थल सामान्य रूप में खुले रहेंगे.

शाही महल के आधिकारिक बयान में कहा गया कि “अल्लाह उनकी रूह पर रहम करे, और उन्हें अपने देश और उन्हें जन्नत में जगह फरमाए साथ ही राष्ट्र की सेवा के लिए अच्छा इनाम दे.

शेख खलीफा अल रय्यान में 1932 में पैदा हुआ थे और उप अमीर बनने से पहले  उन्होंने देश के शिक्षा मंत्री के रूप में कार्य किया था. वे अपने पीछे चार पत्नियां, पांच पुत्र एवं 10 पुत्रियां छोड़ गये हैं.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें