मास्को: रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने अपने वादक मित्र सर्जेइ रोल्दुगिन के बारे में पनामा पेपर्स के रहस्योद्घाटन के सही होने की बात मान ली है। हालांकि इसके साथ ही उन्होंने अमेरिका पर सूचना लीक करने का आरोप लगाते हुए कहा कि धन का उपयोग वाद्ययंत्र की खरीदारी में किया गया था।

160304123729_putin_624x351_ap_nocreditइंटरनेशनल कंसोर्टियम ऑफ इन्वेस्टिगेटिव जर्नलिस्ट्स (आईसीआईजे) के अनुसार, पनामा पेपर्स में रहस्योद्घाटन हुआ है कि रोल्दुगिन ने ‘खुफिया तौर पर बैंकों और फर्जी कंपनियों के मार्फत करीब दो अरब डॉलर भेजा था।’

सालाना फोन-इन के दौरान सवाल पर बोले पुतिन
राष्ट्र के साथ पुतिन के सालाना ‘फोन-इन’ के दौरान एक शख्स ने राष्ट्रपति से पूछा कि उन्होंने ‘पश्चिमी मीडिया में बदनाम करने’ और ‘विदेशी कंपनियों के बारे में गैर-भरोसेमंद सूचना’ पर क्यों प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं की तो उन्होंने कहा कि ‘यह अजीब लग सकता है, वे विदेशी कंपनियों के बारे में गैर-भरोसेमंद जानकारी नहीं प्रकाशित कर रहे हैं। जानकारी सही है।’

पत्रकारों ने नहीं, वकीलों ने तैयार किए लीक दस्तावेज
पुतिन ने लीक की गई सूचना के बारे में कहा, ‘मेरा यह विचार बना है कि इसे (रिपोर्ट को) पत्रकारों ने तैयार नहीं किया है, बल्कि ज्यादा संभव है कि वकीलों ने तैयार किया है।’ रूसी राष्ट्रपति ने कहा, ‘वे विशेष रूप से किसी पर किसी चीज के लिए आरोप नहीं लगाते।’ पुतिन ने कहा कि लीक इस संभावना को बुलंद करके ‘बस हालात को ज्यादा भ्रमपूर्ण और जटिल बनाने का काम’ कर रहा है कि ‘इन विदेशी कंपनियों से धन राष्ट्रपति समेत कुछ अधिकारियों के पास जाता है।’

चुनाव से पहले उकसावे की कार्रवाई
पुतिन ने कहा कि जिन्होंने पनामा पेपर्स की जांच पड़ताल की, वे लक्ष्य से बहुत दूर थे। उन्होंने आरोप लगाया कि पनामा पेपर्स के रहस्योद्घाटन में ‘अमेरिकी सरकारी संस्थाओं के स्टाफ’ काम कर रहे थे। पुतिन ने कहा कि सितंबर में रूस के संसदीय चुनावों से पहले ये ‘उकसावे की कार्रवाई’ हैं। रूसी राष्ट्रपति ने कहा, ‘हमें उनसे किसी पछतावे की उम्मीद नहीं रखनी चाहिए। वे किसी तरह यह करते रहेंगे और चुनाव जितना नजदीक आता जाएगा, उतना ही ज्यादा कीचड़ उछालने के अभियान होंगे।’

पुतिन ने कहा कि रूस ‘को घुमाया-फिराया नहीं जा सकता’ और उसके साथ ‘इज्जत से बात’ करनी होगी। उन्होंने अपने वादक दोस्त की हिमायत करते हुए कहा कि रोल्दुगिन ने सारा धन महंगे वाद्य यंत्रों पर खर्च किए और वह भ्रष्ट नहीं हैं।

पुतिन ने कहा, ‘रूस में आप बस बोरजोई नस्ल के पिल्लों के रूप में रिश्वत देने की कल्पना कर सकते हैं, लेकिन वाइलिन और सेलो में? यह मेरे लिए नई चीज है।’ रूसी राष्ट्रपति ने रोल्दुगिन के लिए सम्मानजनक उपनाम का उपयोग करते हुए कहा, ‘सर्जेइ पाव्लोविच के पास कुछ नहीं बचा, क्योंकि उन्होंने उससे ज्यादा धन इन वाद्ययंत्रों पर लगा दिया जितना उनके पास था।’ पुतिन ने कहा कि रोल्दुगिन ने दो सेलो और दो वायलिन खरीदे। ‘उन्होंने जो अंतिम खरीदारी की उसकी कीमत तकरीबन एक करोड़ 20 लाख डॉलर है।’


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें