रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रविवार को कहा कि 755 अमेरिकी राजनयिकों को जल्द ही रूस छोड़ना होगा. रुस की आधिकारिक टीएएसएस समाचार एजेंसी को इंटरव्यू में उन्होंने ये बात कही.

पुतिन का ये बयान अमेरिकी सीनेट द्वारा हाल ही में रूस, ईरान और उत्तर कोरिया के खिलाफ गुरुवार को नई प्रतिबंधों को मंजूरी देने के बाद आया. हालांकि इस बिल को अब राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की डेस्क पर भेजा जाएगा, जिन्होंने संकेत दिया है कि वह इसे वीटो कर सकते है, लेकिन बिल वीटो सहित बहुमत के साथ पारित हो गया.

पुतिन ने कहा कि अमेरिकी पक्ष ने द्विपक्षीय संबंधों को बिगड़ने की दिशा में “असहाय” कदम उठाए हैं, उनका मानना है कि रूस के प्रति यू.एस. का रवैया “जल्द” नहीं बदलेगा. उन्होंने यह भी कहा कि मास्को का यू.एस. कार्यों को “अनुत्तरित” छोड़ने का कोई इरादा नहीं है, और इसके लिए अन्य विकल्पों पर विचार-विमर्श करने के लिए भी विचार किया जा सकता है.

रूसी राष्ट्रपति ने कहा कि मास्को और वाशिंगटन “बहुत महत्वपूर्ण” क्षेत्रों में सहयोग कर रहे थे, जिसमें सामूहिक विनाश के हथियारों की सीमा और आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई शामिल थी. उन्होंने याद किया कि सीरिया में डी-एस्केलेशन जोन का निर्माण इस संबंध में दोनों देशों के बीच सहयोग का एक “ठोस” कदम था.

 


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE