रूस के राष्ट्रपति विलादीमीर पुतीन ने एथेन्ज़ के दो दिवसीय दौरे के दौरान यूनान के प्रधानमंत्री एलेक्सिस स्प्रास के साथ संयुक्त प्रेस कांफ़्रेंस की. उन्होंने प्रेस कांफ़्रेंस में कहा कि सीरिया की स्थिति, लीबिया और सोमालिया जैसी नहीं होने दूंगा. उन्होंने आगे कहा कि रूस इस बात की अनुमति नहीं देगा कि सीरिया का हाल, लीबिया और सोमालिया जैसा हो जाए.

पुतीन ने कहा कि रूसी युद्धक विमानों ने आतंकियों के ठिकानों को निशाना बनाया था उनका सीरिया की जनता और सेना से कोई लेना देना नहीं था और यह काम क्षेत्र व विश्व में शांति की स्थापना और आतंकवाद के सफ़ाए के लिए बहुत जरुरी था.

पुतीन ने अमरीका की आलोचना करते हुए कहा कि अमरीका ने अपने वादों को नहीं निभाया, अमेरिका द्वारा रोमानिया और पोलैंड में मीज़ाइल सिस्टम लगाना रूस के लिए सबसे बड़ा ख़तरा हैै. उन्होंने आगे कहा कि अमरीका का दावा है कि यह मीज़ाइल ईरान के परमाणु ख़तरों से मुक़ाबले के लिए रोमानिया में लगाई गयी है किन्तु ईरान का परमाणु मामला हल हो गया है, अब क्यों अमरीका, रोमानिया और पौलैंड में मीज़ाइल लगाना चाहता है.

यूनान के प्रधानमंत्री ने भी इस संयुक्त प्रेस कांफ़्रेंस में कहा कि यूनान, सीरिया संकट को वार्ता द्वारा हल किए जाने का समर्थन करता है।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें