PutinObamaUNGA2015

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रोमानिया में अमरीकी मिसाइल रक्षा स्टेशन क़ायम करने को लेकर कहा है कि उनका देश बढ़ते ख़तरों को प्रभावहीन कर देगा। वो मानते हैं कि इस मिसाइल स्टेशन का मकसद रूस की परमाणु शक्ति को कमज़ोर करना है लेकिन रूस भी रक्षा क्षेत्र में अपना ख़र्च को बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है.

गुरुवार को अमरीका ने दक्षिणी रोमानिया के देवेसेलु में 80 करोड़ डॉलर की एक मिसाइल रक्षा प्रणाली सक्रिय की है।अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने रूस की बढ़ती आक्रामक सैन्य गतिविधि पर चिंता जताई है. पश्चिमी देशों के सैन्य संगठन नाटो का कहना है कि इस स्टेशन का लक्ष्य मध्य पूर्व की तरफ़ से होने वाले संभावित ख़तरों को रोकना है.

पुतिन ने कहा, “यह कोई रक्षा तंत्र नहीं हैं बल्कि अमरीका बाहरी इलाक़ों मे परमाणु रणनीतिक संभावनाओं की तलाश में है.” रूसी राष्ट्रपति का यह भी कहना था कि मास्को शक्ति के रणनीतिक संतुलन के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रहा है।इस बीच, अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने उत्तरी यूरोप में रूस की “आक्रामक सैन्य गतिविधियों” को लेकर धमकी दी है।

शुक्रवार को ही स्वीडन, डेनमार्क, फिनलैंड, नॉर्वे और आइसलैंड के नेताओं के साथ व्हाइट हाउस में एक बैठक के बाद ओबामा ने कहा, बाल्टिक-नॉर्डिक क्षेत्र में रूस की बढ़ती आक्रामक सैन्य गतिविधियों को लेकर चिंता है और इस मामले में हम एक साथ हैं.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें