अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प के शरणार्थी विरोधी आदेश के लागू होने के ख़िलाफ़ न्यूयॉर्क और लॉस एंजलेस में बड़ी संख्या में लोगों ने सड़कों पर निकलकर प्रदर्शन किया। गुरुवार को हुए प्रदर्शन के दौरान लोगों ने ट्रम्प से शरणार्थी विरोधी आदेश को वापस लेने की मांग की।

दूसरी ओर ईरान ने ट्रम्प के शरणार्थी विरोधी आदेश को शर्मनाक कहा है। ईरानी विदेश मंत्री जवाद ज़रीफ़ ने शुक्रवार को कहा कि ट्रम्प का शरणार्थी विरोधी आदेश शर्मनाक और अंधी दुश्मनी को दर्शाता है।

और पढ़े -   यमन युद्ध में मरने वाले 50 प्रतिशत बच्चे सऊदी हमलों में मरे: सयुंक्त राष्ट्र

ग़ौरतलब है कि अमरीकी सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को इस देश के राष्ट्रपति ट्रम्प को यह इजाज़त दे दी कि वह शरणार्थी विरोधी अपने आदेश के कुछ भाग को लागू कर सकते हैं कि जिसका लक्ष्य ईरान, सीरिया, यमन, सोमालिया, लीबिया और सूडान के नागरिकों के अमरीका के सफ़र पर रोक लगाना है।

ट्रम्प ने आतंकवाद के ख़िलाफ़ संघर्ष के बहाने जनवरी और मार्च 2017 में शरणार्थी विरोधी आदेश जारी किया था जो इससे पहले तक अनेक अमरीकी राज्यों में जजों की ओर से विरोध के कारण स्थगित हो गया था।

और पढ़े -   सवा लाख अवैध हाजियों को मक्का से वापस भेजा गया

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE