अमरीका द्वारा सऊदी अरब को हथयार बेचने पर अमरीकी मुसलमान और मानव अधिकार कार्यकर्ताओं ने वाशिंगटन में सऊदी दूतावास के सामने विरोध किया

23 अगस्त 2016, मंगल को अमरीका की जनता, रिटायर्ड फौजी अफसरों और मशहूर कार्यकर्ताओं ने यमन में सऊदी और अमरीका की बमबारी के विरोध में सऊदी दूतावास के सामने विरोध किया!

प्रदर्शनकारी आपने हाथों में पोस्टर उठा कर नारे बाजी कर रहे थे जिन पर लिखा हुआ था “सऊदी अरब यमनी बच्चों का खून बहा रहा है” अमरीका सऊदी को हथयार भेजना बंद करे” सऊदी यमन में बमबारी बंद करे”,

8c8622f3f3eb134669af60efc019a03d

अमरीकी निवासी यमन की एक लड़की ने बताया के “मेरा नाम बुशरा है और में यमन की रहने वाली हूँ, आज में सऊदी दूतावास के सामने यमन के बेगुनाह लोगो पर बमबारी का विरोध करने आयी हूँ’’ लड़की ने कहा कि पिछले दो हफ़्तों की बमबारी में अस्पतालों और स्कूलों को निशाना बनाया गया था जिस में लगभग सो लोग मर चुके हें.

बुशरा ने ये भी बताया के सऊदी ने यमन के लोगों के लिए सारे रास्तों को बंद कर दिया है ताकि कोई भी  अंतर्राष्ट्रीय संगठन यमन के लोगों की मदद न कर सके.

कुछ प्रदर्शन कर्ताओं के हाथ में पोस्टरों पर लिखा था “ ऐ सऊदी आज तुम ने कितने बच्चों के मारा है?’ आज तुमने कितने बीमारों का खून बहाया है?’’.

इस धरना प्रदर्शन में ‘युद्ध विरोधी पीली पट्टी संगठन’ के डाइरेक्टर “बिन्जामिन” जिनको अमरीकी खुफिया पुलिस ने दूतावास में बंद कर दिया था, वो बहार आये ओर बोले “अमरीकी खुफिया पुलिस शर्म करो” अमरीकी खुफिया पुलिस शर्म करो”, अपराधी न्यूयार्क में बेठे है और तुम उनके रक्षक बने हुए हो.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें