ईसाईयों के वरिष्ट धर्मगुरु पोप फ़्रांसिस ने अमेरिका की आलोचना करते हुए कहा कि किसी भी बम के लिए माँ शब्द का प्रयोग शर्मनाक हैं.

पोप फ़्रांसिस ने उस बम को “सभी बमों की मां” कहना लज्जाजनक बताया जिसे अभी हाल में अमरीका ने पूर्वी अफ़ग़ानिस्तान के एक क्षेत्र में टेस्ट किया। इस बम को आधिकारिक रूप से जीबीयू-43/बी एमओएबी नाम दिया गया है.

और पढ़े -   जानिए: 1967 से मस्जिदुल अक़्सा पर होने वाले प्रमुख इस्राईली हमलो की जानकारी

संवाददाता के अनुसार, पोप फ़्रांसिस ने मई के चौथे हफ़्ते में अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प के प्रस्तावित वेटिकन दौरे से पूर्व, शनिवार को  बल दिया कि इस बम का नाम लज्जाजनक है क्योंकि “माँ ज़िन्दगी देती है जबकि बम ज़िन्दगी छीनता है।”

ग़ौरतलब है कि 13 अप्रैल को अमरीकी सेना ने पूर्वी अफ़ग़ानिस्तान के नंगरहार प्रांत के ‘आचीन’ शहर के उपनगरीय भाग में सबसे बड़े ग़ैर परमाणु बम का टेस्ट किया जिसमें 100 के क़रीब लोग मारे गए। मरने वालों में कथित रूप 94 मिलिटेंट्स थे.

और पढ़े -   यमन युद्ध में मरने वाले 50 प्रतिशत बच्चे सऊदी हमलों में मरे: सयुंक्त राष्ट्र

इससे पहले भी पोप फ़्रांसिस ने अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प की मैक्सिको की सीमा पर दीवार के निर्माण सहित, दुश्मनी भरी नीतियों की आलोचना करते हुए कहा था, “जो व्यक्ति पुल के बजाए दीवार की बात करे वह ईसाई नहीं है.”


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE