बांग्लादेश की राजधानी ढाका में शुक्रवार की रात को उच्च सुरक्षा वाले राजनयिक क्षेत्र में एक रेस्तरां में हुए आतंकी हमले पर दुख जताते हुए प्रधानमंत्री शेख हसीना ने देश से आंतकवाद को जड़ से खत्म करने की प्रतिबद्धता जताई हैं. उन्होंने कहा कि हमला करने वाले धर्म के दुश्मन हैं.  ऐसे लोगों का धर्म सिर्फ हिंसा है.

उन्होंने कहा कि एक सच्चा मुसलमान कभी मासूम लोगों की जान नहीं ले सकता. आतंकवादियों की मुस्लिम पहचान को लेकर सवाल करते हुए हसीना ने कहा, ‘उन्होंने रमजान की तरावीह का असली पैगाम ही नही समझा. जिस तरह से लोगो को मारा गया वो बर्दाश्त के काबिल नहीं.

और पढ़े -   सऊदी घटक देशों के प्रतिबंध के बावजूद क़तर और तुर्की ने शुरू किया संयुक्त सैन्य अभ्यास

हसीना ने बंधकों को मुक्त कराने में सफल रही देश की फर्स्ट पैरा बटालियन, नौसेना और वायुसेना के जवानों की भी प्रशंसा करते हुए कहा “मैं सुरक्षा बलों को आतंकवादियों के खिलाफ चलाए गए उनके सफल अभियान के लिए बधाई देती हूं. और मैं अल्लाह का शुक्र अदा करती हूं कि हम आतंकवादियों को खत्म करने और बंधको को बचाने में कायमयाब रहे.

और पढ़े -   बगदादी ने जिस मस्जिद से किया था खिलाफत का ऐलान, आईएस ने गिराई 800 साल पुरानी वह ऐतिहासिक मस्जिद

गौरतलब है कि 7 बंदूकधारियों ने एक बेकरी में करीब 40 लोगों को बंधक बना लिया था. 12 घंटों तक चले सेना के अभियान में 6 आतंकी मारे गए जबकि एक को जिंदा पकड़ लिया गया.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE