नई दिल्ली। विमान A-320 एलग्ज़ैन्ड्रिया से काहिरा के लिए उड़ा था लेकिन बीच रास्ते में उसकी हाइजैकिंग की ख़बर आ गई। पूरी दुनिया लगभग ठहर गई और सभी महत्वपूर्ण देशों में अलर्ट जारी हो गया। काहिरा की बजाय प्लेन साइप्रस में उतारा गया। मगर एक घंटे बाद पता चला कि प्लेन हाईजैक करने वाले शख़्स कोई आतंकी नहीं बल्कि एक प्रोफेसर हैं। अपनी पूर्व पत्नी से अलग होने के नाते उन्होंने पूरा तमाशा खड़ा किया गया था। फिलहाल उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है।

साइप्रस में विमान उतरते ही धीरे-धीरे सभी यात्री बाहर आ गए। इसके बाद सुरक्षा अधिकारियों को पता चला कि हाईजैकर कोई आतंकी नहीं बल्कि इश्क में हारे एक आशिक हैं। उनकी पहचान इब्राहिम समाहा के रूप में हुई जो मिस्र की एक यूनिवर्सिटी में पढ़ाते हैं। पत्नी से अलग होने के नाते उन्होंने ऐसा कदम उठाया था।
इससे पहले मिस्र के नागरिक उडड्यन मंत्रालय ने हाईजैकिंग की सूचना जारी की थी। मंत्रालय ने कहा था कि विमान में 55 यात्री सवार हैं। फिर ख़बर आई थी कि हाईजैकर ने अपने शरीर पर विस्फोटक बांध रखा है। उसने क्रू मेंबर्स और 5 अन्य लोगों के अलावा सभी को छोड़ दिया है।
रिहा यात्रियों में 10 अमेरिकी और 8 ब्रिटिश नागरिक शामिल हैं लेकिन आख़िर में पूरी कहानी ही पलट गई। पता चला कि वह अपनी पूर्व पत्नी के प्यार में पागल हैं जो उस वक्त विमान में मौजूद थीं। साइप्रस के अधिकारियों ने हाईजैकर को गिरफ्तार कर लिया है। सभी बंधकों को विमान से सुरक्षित निकाल लिया गया है। (Live India)
और पढ़े -   मंसूर हादी यमन युद्ध के लंबा खिचने का मुख्य कारणः अमीराती राजदूत

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE