प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इजराइल का तीन दिवसीय दौरा खत्म भी नहीं हुआ कि मुस्लिम देशों की प्रतिक्रिया भी आनी शुरू हो गई है. ईरान ने कश्मीर को लेकर भारत को घेरना शुरू कर दिया है.

ईरान में इस्लामिक क्रांति के मुखिया और धर्मगुरु अयातुल्लाह अली खामनेई ने कश्मीर पर बयान जारी कहा कि दुनिया भर नाईजीरिया, म्यामांर और कश्मीर में मुस्लिमों से जुड़े मुद्दों पर उनका सपोर्ट करें.

और पढ़े -   स्पेन में आतंकी हमलों के खिलाफ मुस्लिमों का प्रदर्शन, कहा - इस्लाम आतंकवाद के खिलाफ

इससे पहले तेहरान के ग्रेट मुसाला मैदान में जुटे हजारों लोगों के बीच उन्होंने कहा था, ”दुनियाभर में फैले मुस्लिम यमन, बहरीन और कश्मीर के बेगुनाह लोगों का खुलकर सपोर्ट करें, साथ ही रमजान के दौरान लोगों पर हमला करने वाले दमनकारियों को बाहर का रास्ता दिखाएं.

फिलिस्तीन को लेकर उन्होंने कहा, मुस्लिम देशों के बीच फलस्तीन एक अहम मुद्दा है. इस्लामिक कानून के मुताबिक, मुस्लिमों की जमीन पर जब भी कोई दुश्मन पैदा हुआ. जैसे भी मुमकिन हो उसके खिलाफ जिहाद हम सबका फर्ज है. आज जियोनिस्ट शासन के खिलाफ मुस्लिमों को लड़ाई की जरूरत है. कुछ लोग क्यों इससे पीछे हट रहे हैं?’

और पढ़े -   यमन युद्ध में मरने वाले 50 प्रतिशत बच्चे सऊदी हमलों में मरे: सयुंक्त राष्ट्र

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE