ool

रूस ने पिछले हफ़्ते सीरिया के हलब शहर में एक 12 साल के फ़िलिस्तीनी बच्चे का गला सबके सामने काटते हुए विडियो बनाकर शेयर करने वालें आतंकियों को अमेरिका का समर्थन हासिल बताया हैं.

रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया ज़ख़ारोवा ने शनिवार को कहा कि जिन लोगों ने एक फ़िलिस्तीनी बच्चे का सिर धड़ से अलग करके उसका वीडियो बनाया उन्हें उन्हें अमरीका का समर्थन प्राप्त है. उन्होंने आगे कहा कि बच्चे की सिर्फ़ इस शक में इस तरह हत्या की कि उसने सीरियाई राष्ट्रपति बश्शार असद के समर्थकों के साथ सहयोग किया होगा.

ज़ख़ारोवा के अनुसार, मारे गये बच्चे को हलब से पकड़ा था और उसके जिस्म पर मौजूद जख्मों के निशान से पता चलता है कि उसकी हत्या से पहले उसे यातना दी गयी थी. ज़ख़ारोवा ने आगे कहा कि इन आतंकी गुटों का किसी भी मानवीय मूल्य में विश्वास नहीं हैं.

गौरतलब रहें कि पिछले हफ़्ते अमरीका समर्थित आतंकियों ने फ़िलिस्तीनी प्रतिरोध से बदला लेने के लिए, सीरिया के हलब शहर के निकट फ़िलिस्तीनियों के हन्दरात कैंप पर हमला किया और एक 12 साल के फ़िलिस्तीनी बच्चे की गर्दन सबके सामने काटते हुए फ़िल्म बनाकर शेयर किया था.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें