4bkb64c6a0326bgp6d_800c450

लेबनान में ढाई साल बाद सोमवार को राष्ट्रपति पद पर मीशल औन की नियुक्ति होने पर फ़िलिस्तीन के इस्लामी प्रतिरोध आंदोलन हमास ने लेबनानी सरकार और नवनिर्वाचित राष्ट्र को बधाई दी।

फ़िलिस्तीन इन्फ़ॉर्मेशन सेंटर के अनुसार, बैरूत में हमास के प्रतिनिधि अली बरका ने लेबनान में राष्ट्रीय एकता क़ायम करने और लेबनानी व फ़िलिस्तीनी राष्ट्र के बीच बेहतरीन संबंध बनाने में हमास आंदोलन की रूचि पर बल दिया।  उन्होंने कहा कि लेबनान के मज़बूत होने से फ़िलिस्तीन मज़बूत होगा।

और पढ़े -   रिश्तें बहाली पर सऊदी अरब की मांगों को क़तर ने मानने से किया साफ़ इनकार

उन्होंने आगे कहा, अंतर्राष्ट्रीय और अरब हल्क़ों में फ़िलिस्तीनी राष्ट्र और उसकी आकांक्षाओं का समर्थन करने से अतिग्रहित फ़िलिस्तीन की भूमि की आज़ादी और विस्थापित फ़िलिस्तीनियों की वतन वापसी की प्रक्रिया तेज़ हो जाएगी।

गौरतलब रहें कि लेबनान में लगभग ढाई साल राष्ट्रपति का पद ख़ाली पड़ा था। मीशल औन ने सोमवार को तेरहवें राष्ट्रपति के रूप में लेबनानी सांसदों के सामने शपथ ग्रहण की।

और पढ़े -   मस्जिद से 50000 की चोरी, चोर ने चिठ्ठी छोड़ कहा - 'मेरा और अल्लाह के बीच का मामला दखल मत दो'

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE