kl

इस्राईली सैनिकों ने फिलिस्तीन के अवैध अधिकृत वेस्ट बैंक के एक शरणार्थी कैम्प हमला करके एक फ़िलिस्तीनी लड़के को शहीद कर दिया. इस हमलें में 32 से ज्यादा फ़िलिस्तीनी घायल हुए हैं.

मंगलवार को फ़िलिस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बयान जारी करके बताया है कि अल ख़लील शहर के निकट फ़व्वार कैम्प पर हमला करके इस्राईली सैनिकों ने 17 वर्षीय मोहम्मद अबू हशहश के सीने में गोली मार दी, जिसके कारण हशहश की मौत हो गई.

और पढ़े -   सऊदी अरब 1 जुलाई से लागू करेगा 'डिपेंडेंट टैक्स', विदेशी कामगारों को झेलनी होगी आर्थिक मार

मंगलवार को यह झड़प उस समय शुरू हुई, जब इस्राईली सैनिकों ने फ़िलिस्तीनियों के शरणार्थी कैम्प पर हमला कर दिया और घरों में तोड़ फोड़ की तथा पूछताछ के लिए कई फ़िलिस्तीनियों को उठा लिया और फ़िलिस्तीनी युवकों पर सीधे फ़ायरिंग कर दी और उनकी ओर आंस गैस के गोले फेंके.

गौरतलब रहें कि ज़ायोनी शासन के सबसे बड़े रब्बी अर्थात धर्मगुरू श्मोईल एलियाहू ने फ़िलिस्तीनियों के जनसंहार को यहूदियों का धार्मिक कर्तव्य बताया हैं. जिसके कारण फिलिस्तीनियों को किसी भी बहाने से मारा जा रहा हैं.

और पढ़े -   रिश्तें बहाली पर सऊदी अरब की मांगों को क़तर ने मानने से किया साफ़ इनकार

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE