hile

इस्राईल फ़िलिस्तीन विवाद के संबंध में संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव को लेकर अमेरिका ने विरोध करने का फैसला किया हैं. अमरीका की डेमोक्रेट राष्ट्रपति उम्मीदवार हिलैरी क्लिंटन ने इस्राईली प्रधानमंत्री बिनयामिन नेतनयाहू से मुलाकात में इस बात का खुलासा किया हैं.

रविवार को न्यूयार्क में नेतनयाहू से अपनी मुलाक़ात में हिलैरी क्लिंटन ने कहा कि वह फ़िलिस्तीन इस्राईल विवाद के संबंध में दो राष्ट्रों वाले समाधान का समर्थन करती हैं लेकिन संयुक्त राष्ट्र संघ सहित बाहरी पक्ष की ओर से थोपे गए हर समाधान का विरोध करेंगी.

और पढ़े -   कठिन परिस्थितियों में भी नहीं छोड़ा फिलिस्तीन का साथ, मुसलमानों में फैलाए जा रहे मतभेद: सीरिया

हिलैरी क्लिंटन ने कहा कि इस्राईल के विरुद्ध जारी अभियानों का वह मुक़ाबला करेंगी जिनमें बीडीएस अभियान भी शामिल है. बायकाट, डिवेस्टमेंट एंड सैंकशन्स बीडीएस अभियान वर्ष 2005 में 170 फ़िलिस्तीनी संगठनों की ओर से शुरू किया गया था जिसके तहत इस्राईल का कई प्रकार से बहिष्कार किए जाने की कोशिश की जा रही है.

इसके अलावा हिलैरी क्लिंटन ने इस्राईल को दी जाने वाली सैनिक मदद का समर्थन करते हुए कहा कि मज़बूत और सुरक्षित इस्राईल अमरीका के लिए बहुत महत्वपूर्ण मुद्दा है.

और पढ़े -   सैन्य डील के बाद अमेरिका क़तर पर हुआ नरम तो सऊदी अरब पर भड़क उठा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE