filis

फिलिस्तीन में इजराइल शासन द्वारा फिलिस्तीनी पत्रकारों के अधिकारों का हनन लगातार जारी हैं. फिलिस्तीन की समाचार एजेन्सी वफ़ा ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट में पिछले महीने फ़िलिस्तीनी पत्रकारों पर होने वाले 19 हमलों की ओर संकेत करते हुए कहा कि इस्राईली सैनिकों ने तीन पत्रकारों को आंसू गैस के गोले और मार पीट कर घायल कर दिया जबकि 16 अन्य को गिरफ़्तार कर लिया या उनके आईडी को ज़ब्त कर लिया.

सी प्रकार पिछले महीने इस्राईली सैनिकों ने फ़िलिस्तीन की एक समाचार एजेन्सी के फ़ोटो ग्राफ़र को मस्जिदुल अक़सा के भीतर फ़ोटो लेने के बाद गिरफ़्तार कर लिया और 15 दिनों तक उसे शहर से दूर रखा.

इस्राईली सैनिकों का दावा है कि मस्जिदुल अक़सा की किसी भी प्रकार की फ़ोटो खींचना मना है. मस्जिदुल अक़सा की फ़ोटो खींचनें पर गिरफ्तार कर लिया जाता हैं.

इस्राईली सैनिक उन पत्रकारों को गिरफ़्तार कर लेते हैं जो इस्राईली विरोधी प्रदर्शनों और अवैध ज़ायोनी बस्तियों के निर्माण कार्य को करवेज देते हैं.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें