म्यांमार में रोहिंग्या मुस्लिमों पर हो रही जुल्मों-ज्यादती के खिलाफ दुनिया भर में आवाज उठ रही है. लाखों की संख्या में अपनी जान बचाने के लिए रोहिंग्या मुस्लिम बांग्लादेश पहुँच रहे है. लेकिन लाखों को पहले से ही शरण दे चुके बांग्लादेश ने अपनी इस बार अपनी असमर्थता जाहिर की है.

ऐसे में अब पाकिस्तान में रोहिंग्या मुस्लिमों को शरण देने  के लिए आवाज उठने लगी है. पाकिस्तान पीएम बेनजीर भुट्टो की भतीजी फातिमा भुट्टो ने इस मसले पर ट्वीट करके रोहिंग्या मुसलमानों के शरण देने की बात कही है.

फातिमा ने ट्वीट करके लिखा है कि पाकिस्तान क्यों नहीं, दुनिया का एकमात्र देश जो मुसलमानों को शरण देने के लिए बनाया गया. अपने द्वार रोहिंग्या के लिए क्यों ना खोल दे”?

इस बीच पाकिस्तान में म्यांमार के साथ कूटनीतिक संबंधों को समाप्त करने के लिए इस देश के उच्च न्यायालय में एक याचिका दायर की गई है. इस्लामाबाद हाई कोर्ट में दायर याचिका में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री, विदेश सचिव, गृह सचिव और रक्षा सचिव को पक्ष बनाया गया है.

याचिका में  कहा गया है कि म्यांमार 5 करोड़ आबादी वाला देश है जहां 12 लाख मुसलमान रहते हैं, 25 अगस्त से अबतक चरमपंथी बौद्धों ने सेना के साथ मिलकर हज़ारों मुस्लिम पुरुष, महिलाओं और बच्चों की हत्याएं की हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE