पाकिस्तान ने कश्मीर को लेकर हाल ही में दिए ईरान के सुप्रीम लीडर अयातुल्लाह अली खामनेई के बयान का स्वागत किया है.

पाकिस्तान के विदेशमंत्रालय के प्रवक्ता नफ़ीस ज़करिया ने इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनेई के कश्मीर के बारे में दिए बयान का स्वागत करते हुए कहा कि दुनिया के समस्त मुसलमानों को कश्मीर में मानवाधिकारों के हनन की चिंता है.

और पढ़े -   मुस्लिम पड़ोसियों ने बचाई गर्भवती रोहिंग्या हिन्दू की जान, बांग्लादेश में ली हुई है शरण

दरअसल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के इजराइल दौरे के ठीक एक दिन पहले अयातुल्लाह अली खामनेई ने कश्मीर पर बयान जारी कर कहा कि दुनिया भर नाईजीरिया, म्यामांर और कश्मीर में मुस्लिमों से जुड़े मुद्दों पर उनका सपोर्ट करें.

 उन्होंने कहा, ”दुनिया भर में फैले मुस्लिम यमन, बहरीन और कश्मीर के बेगुनाह लोगों का खुलकर सपोर्ट करें, साथ ही फिलिस्तीन को लेकर उन्होंने कहा, मुस्लिम देशों के बीच फलस्तीन एक अहम मुद्दा है. इस्लामिक कानून के मुताबिक, मुस्लिमों की जमीन पर जब भी कोई दुश्मन पैदा हुआ. जैसे भी मुमकिन हो उसके खिलाफ जिहाद हम सबका फर्ज है.

और पढ़े -   अमेरिकी राष्ट्रपति ने सयुंक्त राष्ट्र से रोहिंग्या के लिए 'मजबूत और तेज' कार्रवाई का आग्रह किया

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE