pakistan-release-87-fisherman

पाकिस्तान ने जल सीमा के उल्लंघन करने के आरोप में गिरफ्तार भारतीय मछुआरों में से 87 मछुआरों को सदभावना के तहत आज रिहा कर दिया।

पाकिस्तान के एक अंग्रेजी समाचार पत्र ने कराची के लांधी जेल अधीक्षक शाकिर शाह के हवाले से बताया कि पाकिस्तान की जेल में लगभग 536 भारतीय मछुआरे हैं और उनमें से 87 को आज रिहा किया गया जबकि 20 मार्च को 86 अन्य भारतीय मछुआरों को भी रिहा किया जायेगा।

और पढ़े -   अमेरिकी राष्ट्रपति ने सयुंक्त राष्ट्र से रोहिंग्या के लिए 'मजबूत और तेज' कार्रवाई का आग्रह किया

रिहा किए गए भारतीय मछुआरे ढाई साल से लांधी के जेल में बंद थे।

इन्हें इनके दस्तावेंजों का सत्यापन करने के बाद वाघा सीमा पर भारतीय अधिकारियों को सौंपा जायेगा। परोपकारी संस्था ईधी फाउंडेशन के फैसल ईधी ने मछुआरों के लिए रेल यात्रा का प्रबंध किया और उन्हें कुछ नकद राशि और उपहार भी दिये।

अरब सागर में दोनों देशों के बीच जल सीमा का स्पष्ट निर्धारण नहीं होने के कारण भारत और पाकिस्तान द्वारा मछुआरों की गिरफ्तारियां होती रहती हैं।

और पढ़े -   व्हाट्सअप पर इस्लाम के लिए अपमानजनक सन्देश भेजने वाले को मिला मृत्युदंड

लेकिन फिर भी दोनों देश सदभावाना के तहत एक दूसरे के मछुआरों को रिहा करते रहते हैं।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE