pak_honor_killing
पुलिस के अनुसार 15 में से 13 आरोपी गिरफ्तार किये गये है

इस्लामाबाद – दिल दहला देने वाली ये घटना पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा के एबटाबाद जिले के माकूल गांव में घटित हुई है जहाँ लड़की पर मात्र इतना आरोप है की उसने अपनी सहेली को उसके प्रेमी के साथ भागने में मदद की है।

मीडिया की खबरों के अनुसार 16 वर्ष की इस लड़की अमरीन ने अपनी सहली को उसके प्रेमी के साथ घर से भाग जाने में मदद की जिसे लेकर गाँव के बुजुर्गों के स्थानीय समूह ने अम्बरीन को सज़ा दी, सज़ा इतनी भयानक की रौंगटे काँप जाए, सज़ा के तहत लड़की को पहले ड्रग दिया गया उसके बाद उसे मारा पीटा गया फिर तेल डालकर जिंदा जला दिया.

और पढ़े -   रोहिंग्या मुसलमानों की सहायता के लिए ईरान ने तेज़ की कोशिश।

 
पुलिस अधिकारी शम्स खान ने बताया कि 28 अप्रैल को स्थानीय बुजुर्ग नेताओं की बैठक हुई और अंबरीन को सजा देने का फैसला किया गया। साथ ही उस व्यक्ति की गाड़ी भी जला दी गई जो भागने वाले दंपती को अपनी गाड़ी में लेकर गया था। उन्होंने कहा, ’29 अप्रैल को उन्होंने गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी और फिर गाड़ी में डालकर उसमें आग लगा दी।’

और पढ़े -   रोहिंग्या मुस्लिमों का नरसंहार को रोक सकता है सिर्फ ये शख्स

पुलिस ने हत्या को मंजूरी देने वाले 15 में से 13 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। उन पर हत्या, आगजनी और आतंकवाद का आरोप लगाया गया है।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE