पाकिस्तान में एक अजीब मामला सामने आया हैं. पुलिस ने एक सिख की पगड़ी उतारने के मामले में एक ट्रांसपोर्ट कंपनी के छह लोगों के खिलाफ़ ईशनिंदा का मामला दर्ज किया है. महिन्दर पाल सिंह नाम के सिख शख्स का आरोप है कि ट्रांसपोर्ट कंपनी के एक कर्मचारी ने उनकी पगड़ी उतारकर ज़मीन पर फेंक दी.

महिन्दर पाल सिंह के अनुसार जब उन्होंने और कुछ यात्रियों ने सफर में देरी होने पर शिकायत ट्रांसपोर्ट कंपनी के कर्मचारियों से की थी. उन्होंने कहा है कि “पगड़ी सिख धर्म में पवित्र चिन्ह माना जाता है और उसे नीचे फेंकना पगड़ी को अपवित्र करने के समान है.”

और पढ़े -   फिलिस्तीनी कैदियों ने इजराइल को झुकाया, खत्म की अपनी भूख हड़ताल

पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय के लोग ईशनिंदा की शिकायत दर्ज कराएं ऐसे मामले कम ही सामने आते हैं. बहुसंख्यक समुदाय के लोग ही अक्सर पाकिस्तान में ईशनिंदा कानून के तहत मामले दर्ज कराते हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE