nikah_paper_signing

पाकिस्तान के सिंध प्रांत में एक हिंदू लड़की द्व्रारा अपने बचपन के मुस्लिम दोस्त से शादी करने का मामला सामने आया हैं. इस मामलें में खास बात ये हैं कि दोस्त के साथ शादी करने के लिए लड़की ने अपने पिता की सहमति से इस्लाम धर्म भी अपनाया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार गोवर्धन दास खत्री और यूसुफ कैमखानी खत्री के पुराने मित्र हैं. उन्होंने अपनी बेटी को इस्लाम कबूल करने की अनुमति देते हुए अपने दोस्त के बेटे बिलाल कैमखानी के साथ शादी करने की भी अनमति दी.

और पढ़े -   इजराइल के ‘युद्ध अपराधों’के खिलाफ फ़िलिस्तीनियों ने खटखटाया अंतरराष्ट्रीय न्यायालय का दरवाजा

जब खत्री को पता चला कि उनकी बेटी उनके दोस्त कैमखानी के बेटे से शादी करन चाहती है तो उन्होंने अपने दोस्त को रिश्तें के लिए सपरिवार आमंत्रित किया. कैमखानी सपरिवार मीरपुरखास स्थित खत्री के घर पहुंचे जहां दोनों की शादी संपन्न हुई. शादी के बाद दी गई दावत में बड़ी संख्या में हिंदू और मुस्लिम रिश्तेदार आए थे.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE