Turkey and Russia to focus on their battle forgotten IS OBAMA

अमरीका के राष्ट्रपति बाराक ओबामा का कहना है कि वह वर्ष 1945 में जापान के हीरोशीमा और नागासाकी शहरों पर परमाणु बमबारी की मांगी नहीं मांगेंगे।

ओबामा शुक्रवार को परमाणु बमबारी वाले स्थान का दौरा करने वाले अपने अमरीकी राष्ट्रपति बनेंगे। ओबामा ने कहा कि जापान यात्रा में उनका ध्यान आपसी संबंधों पर केन्द्रित रहेगा। रविवार को जापान के नेशनल ब्राटकास्टर एनएचके ने ओबामा से पूछा कि जब वह हीरोशीमा का दौरा करेंगे तो क्या वह इस अवसर पर अपनी टिप्पणी में माफ़ी को भी शामिल करेंगे तो ओबामा ने उत्तर दिया कि नहीं क्योंकि मैं यह समझता हूं कि जब युद्ध चल रहा होता है तो नेताओं को विभन्न प्रकार के निर्णय लेने होते हैं।

ओबामा ने कहा कि साढ़े सात साल सत्ता में रहने के बाद मैं यह समझता हूं कि हर नेता को बड़े मुशकिल फ़ैसले करने पर मजबूर होना पड़ता है विशेष रूप से उस समय जब युद्ध चल रहा हो। ओबामा ने कहा कि इस यात्रा में दोनों पक्षो को वर्तमान संबंधों को और मज़बूत बनाने पर ध्यान देना चाहिए।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें