ज्योपॉलिटिकल फ़्यूचर्ज़ केन्द्र के संस्थापक का कहना है कि अमरीका और उत्तर कोरिया के बीच एक भीषण युद्ध की तैयारियां ज़ोर शोर से जारी हैं।

ज्योपॉलिटिकल फ़्यूचर्ज़ के संस्थापक जॉर्ज फ़्रेडमैन ने कहा है कि ट्रम्प प्रशासन ने इस संबंध में अभी कोई अंतिम फ़ैसला नहीं लिया है, लेकिन उत्तर कोरिया ने कुछ ऐसे क़दम उठाए हैं, जिससे युद्ध के लिए भूमि प्रशस्त हो गई है।

फ़्रेडमैन के मुताबिक़, दिन प्रतिदिन अमरीका और उत्तर कोरिया के बीच मतभेद बढ़ते जा रहे हैं और दोनों देशों के बीच युद्ध अब तय माना जा रहा है।

20 मई को अमरीकी युद्धपोत यूएसएस कार्ल विनसन और यूएसएस रोनॉल्ड रीगन उत्तर कोरिया के बहुत निकट पहुंच गए हैं और 100 एफ़-16 विमान इलाक़े में उड़ानें भर रहे हैं।

अमरीकी अधिकारी 31 मई को कोरिया प्रायद्वीप में सहायता सामग्री पहुंचाने जैसे मामलों की समीक्षा करेंगे, जिसका मतलब युद्ध की तैयारी के अलावा और कुछ नहीं है। सबसे बड़ी समस्या यह है कि इस संभावित युद्ध के नुक़सान का अभी कोई अनुमान नहीं लगाया जा सकता।

दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में क़रीब ढाई करोड़ लोग, सीधे उत्तर कोरिया की बमबारी के निशाने पर हैं, जिसके जवाब में प्यूंगयांग को भी निशाना बनाया जाएगा।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE