हाइड्रोजन बम का परीक्षण करने के बाद अपने देश में वाहवाही लूट रहे उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जांग-उन ने सोमवार को कहा कि उनका देश और अधिक परमाणु बम बनाएगा। इस परीक्षण के प्रचार के तहत किम जोंग ने अपने वैज्ञानिकों की तारीफ की।

Image Loadingसरकारी कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी के अनुसार, इस दौरान किम ने इस परीक्षण में शामिल परमाणु वैज्ञानिकों और तकनीशियनों के साथ तस्वीरें भी खिंचवाईं। इसके अलावा किम के दो पूर्ववर्ती शासकों (किम के दिवंगत पिता किम जोंग द्वितीय और दादा किम द्वितीय संग) को गौरवांवित करने के लिए सभी की सराहना की। वहीं, देश के भीतर किम के भारी प्रचार के तहत इस परीक्षण को किम के नेतृत्व से जोड़कर दिखाते हुए उनका महिमामंडन किया जा रहा है।

और पढ़े -   हसन रूहानी ने दर्ज की जीत, ईरान के दोबारा राष्ट्रपति चुने गए

साथ ही इस परीक्षण को उत्तर कोरिया की शासन व्यवस्था को ध्वस्त करने के अमेरिकी नेतृत्व वाले प्रयास से निपटने के लिए जरूरी बताया जा रहा है। किम जोंग ने यह बयान शक्ति प्रदर्शन करने के लिए अमेरिका द्वारा परमाणु क्षमता से संपन्न युद्धक विमान उत्तर कोरिया के पास उड़ाए जाने के एक दिन बाद दिया है। गौरतलब है कि हाइड्रोजन बम परीक्षण के विवादित दावे के चलते उत्तर कोरिया के बाहर किम जोंग को व्यापक आलोचनाओं और भारी प्रतिबंधों के खतरों का सामना करना पड़ रहा है।

उत्तर कोरिया ने भी लाउडस्पीकर की नीति अपनाई 
उत्तर कोरिया के हाइड्रोजन बम के सफल परीक्षण के बाद दक्षिण कोरिया द्वारा लाउडस्पीकर दुष्प्रचार को जारी रखने के फैसले पर प्रतिक्रियास्वरूप उत्तर कोरिया ने भी सीमावर्ती क्षेत्रों में दुष्प्रचार नीति शुरू कर दी है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, उत्तर कोरिया ने उन सभी 11 स्थानों पर प्रचार-प्रसार की नीति शुरू कर दी है, जहां दक्षिण कोरिया की सेना लाउडस्पीकर के जरिए उत्तर कोरिया के खिलाफ दुष्प्रचार कर रहा है। दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता किम मिनसियोक ने बताया कि उत्तर कोरिया संगीत के जरिए अपने शीर्ष नेता किम जोंग उन और उनके शासनकाल की प्रशंसा और दक्षिण कोरिया की राष्ट्रपति पार्क ग्युन हे की निंदा कर रहा है।

और पढ़े -   ब्रिटेन: पॉप सिंगर एरियाना ग्रैंड के शो के दौरान भीषण धमाका, 19 हताहत व 50 घायल

अमेरिकी सेना सतर्क 
हाइड्रोजन बम के परीक्षण के बाद प्योंगयांग की तरफ से किसी भी उकसावे की स्थिति से निपटने के लिए अमेरिका ने अपने सैनिकों को अधिकतम अलर्ट स्थिति में रहने का निर्देश दिया है। अमेरिका ने कोरिया में संयुक्त राष्ट्र की कमान वाली संयुक्त सेना के कमान्डर कुर्तीस स्कैपरोती को सेना को अधिकतम सतर्क स्थिति में रखने का निर्देश ओसान एयरबेस के अपने दौरे के समय दिया। इस एयरबेस पर अमेरिका तथा दक्षिण कोरिया की सेना की संयुक्त कमान है।

और पढ़े -   फ़िलिस्तीनियों को सऊदी का समर्थन केवल वित्तीय नहीं बल्कि राजनीतिक भी: अल-कुद्स कांफ्रेंस

अमेरिका और द कोरिया के बीच वार्ता
कोरियाई प्रायद्वीप में बढे़ तनाव के बीच अमेरिका और उसका सहयोगी दक्षिण कोरिया में सैन्य हथियार भेजने को लेकर बातचीत चल रही है। दक्षिण कोरियाई रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता किम मिन-सियोक ने कहा कि अमेरिका और दक्षिणी कोरिया इस क्षेत्र में अतिरिक्त सैन्य साजो-सामान की तैनाती को लेकर लगातार चर्चा कर रहे हैं। साभार: livehindustan


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE