chai

भारत में चीन के उत्पादों के बहिष्कार से चीन तिलमिलाया हुआ हैं. चीन के सरकारी मीडिया ने बुधवार को कहा कि  भारत सिर्फ भौंक सकता है. चीनी उत्पादों का बहिष्कार सिर्फ लोगों की भावनाओं को भड़काने के लिए किया जा रहा है. लेकिन हकीकत ये हैं कि भारतीय उत्पाद चीनी उत्पादों का मुकाबला कर ही नहीं सकते..

चीन की मीडिया के अनुसार भारत का यह विरोध पाकिस्तान में बसे आतंकवादियों को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित करवाने में चीन द्वारा लगातार विरोध किए जाने पर है. इससे भारतीय गुस्से में हैं, और उन्होंने ही चीन के उत्पादों के बहिष्कार का आह्वान किया है.

‘ग्लोबल टाइम्स’ ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रोजेक्ट ‘मेक इन इंडिया’ को भी ‘अव्यावहारिक’ बताते हुए चीनी कंपनियों को भारत में निवेश न करने की चेतावनी दी हैं. साथ ही भारत में पैसा लगाना ‘खुदकुशी’ करने जैसा बताया हैं.

इसके अलावा भ्रष्टचार को लेकर भी आलोचना करते हुए कहा, सबसे बुरा पहलू यह है कि वहां हर सरकारी विभाग में ऊपर से नीचे तक भ्रष्टाचार बहुत ज़्यादा व्याप्त है…”


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें