अमेरिका के मशहूर अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपने संपादकीय में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश में कट्टरता और साम्प्रदायिकता फैलाने के लिए जिम्मेदार ठहराया है. अखबार ने लिखा कि मोदी ने मजबूत अर्थव्यवस्था और देशवासियों को सुनहरे भविष्य का वादा देकर बहुमत से चुनाव जीता था. साथ ही कहा गया कि 2014 में प्रधानमंत्री बनने के पीछे उनकी हिंदू राष्ट्रवादी छवि थी.

सम्पादकीय में मोदी की आलोचना करते हुए कहा गया कि नरेंद्र मोदी के शासन काल में देश की प्रगति की दर काफी धीमी रही. नौकरियों को लेकर भी कोई ध्यान नहीं दिया गया. साथ ही देश भर में असहिष्णुता फैलाई गई. अखबार ने गौरक्षा के नाम पर मुस्लिमों की हत्या को भी रेंखाकित किया, और कहा, मोदी के पद सँभालने के साथ ही मुस्लिमों की हत्या शुरू हो गई. उन्हें मारा जाने लगा.

सम्पादकीय में मुस्लिमों की हत्या को लेकर मोदी की ख़ामोशी की भी आलोचना की गई. अखबार ने कहा कि मोदी ने अब जाकर पिछले महिने इस मामले में कुछ बोला. इसके अलावा बूचड़खानों के लिए गाय की बिक्री को लेकर प्रतिबंध की भी तीखी आलोचना की गई. जिसे सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया. इस प्रतिबंध की वजह से मुस्लिमों और दलितों को अपने रोजगार से हाथ धोना पड़ा.

हाल ही में अख़बार ने “हिन्दुस्तान में एक फायरब्रांड हिन्दू पुजारी राजनीतिक सीढ़ियां चढ़ता” शीर्षक से लिखे आलेख में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की आलोचना करते हुए उन्हें आतंकी संगठन हिन्दू युवा वाहिनी का सरगना बताया गया था.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE