बेन्यामिन नेतान्याहू ने अपनी मास्को की यात्रा में एक बयान में कहा: हम अपनी सारी शक्ति लगा देंगे ताकि ईरान की ओर से लेबनोनी हिज़बोल्लाह तक कोई भी हथियार न पहुच सके।

नेतान्याहू ने सीरिया भूमि पर कब्ज़े को जारी रखने पर दिया जोर

इसी तरह उन्होंने दोबारा जोर देते हुए ये कहा कि अधिकृत गोलान हाइट्स सदैव इजराइल का ही भाग रहेगा।

इसरायली प्रधान मंत्री ने कहा: इजराइल अपनी शांति की सीमा रेखाओं को स्पष्ट रूप से जनता है। हम सबसे पहले हर उस कार्य का आरम्भ करेंगे जिससे सीरिया और ईरान की ओर से हिज़बोल्लाह की ओर किसी भी प्रकार के हथियार को न पहुचने दें।

उन्होंने आगे कहा: दूसरा ये कि हम हर उस कार्य को आरम्भ करेंगे जिससे गोलान हाइट्स पर किसी प्रकार के नए आतंकवादी संगठन को बन्ने से रोका जा सके।

बेन्यामिन नेतान्याहू आज सुरक्षा व राजनीति अधिकारियों, जिसमें यहूदी शासन के वायु सेना के कमांडर जनरल अमीर ईशल भी शामिल हैं, के प्रतिनिधिमंडल में मास्को गए हैं।

इस कथन के अनुसार, नेतान्याहू अपनी इस यात्रा में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से भेंट करेंगे तथा सीरिया के विकास और विशेष रूप से दोनों ओर से वायु सेना के बीच सहयोग के बारे में बात चीत करेंगे।

इस कथन के अनुसार, नेतान्याहू की पिछले वर्ष सितम्बर में रूस यात्रा में व्लादिमीर पुतिन से मुलाक़ात हुई थी और वहां निश्चित किया गया था कि रूस और इजराइल मिल कर एक टीम बनाएँगे जो कि सीरिया में किसी भी प्रकार के उद्देश्यहीन संचालन को रोकेगी।

नेतान्याहू इस यात्रा में फिलिस्तीन के प्रोग्राम पर भी पुतिन के साथ विचार विमर्श करेंगे, हालाँकि दो दिन पहले ही फिलिस्तीनी प्राधिकरण के अध्यक्ष महमूद अब्बास मास्को गए थे और वहां पुतिन से मुलाक़ात की थी।

गोलान हाइट्स के बारे में नेतान्याहू के बयान तब आये हैं जब कि उन्होंने रविवार के दिन भी कैबिनेट की साप्ताहिक मीटिंग को गोलान हाइट्स में ही संपन्न किया जिसके कारण कई देशों से जैसे की ईरान, मिस्र तथा सीरिया, निंदा की गई तथा अरब लीग ने भी अपने एक बयान में गोलान हाइट्स को अरब का भाग कहा।

साभार: hindkhabar.in


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें