02b23e13 5bbd 4359 8378 6f2ee842e2c7

25 अगस्त के बाद सुनियोजित तरीके से बौद्ध चरमपंथियों के साथ मिलकर म्यांमार सेना ने रोहिंग्या मुस्लिमों पर जो जुल्म किये उनकी दास्तान सुनकर दुनिया भी सकते में है.

इस बारें में संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि म्यांमार फ़ौज ने रोहिंग्या महिलाओं के साथ सामूहिक बलात्कार किये. जिसके चलते कई रोहिंग्या महिलाओं की जान चली गई.

संयुक्त राष्ट्र की विशेष प्रतिनिधि प्रमिला ने कहा कि रोहिंग्या मुस्लिमों के खिलाफ कई घटनाएं मानवता के खिलाफ अपराध हो सकते हैं. उन्होंने बताया, मैंने बलात्कार एवं सामूहिक बलात्कार की भयावह कहानियां सुनी हैं जिनमें बलात्कार के कारण कई महिलाओं और लड़कियों की जान गयी.

उन्होंने कहा कि मेरे आकलन के अनुसार व्यापक स्तर पर यातना की घटनाएं घटी हैं जिनमें जातीयता एवं धर्म के आधार पर व्यवस्थित रूप से निशाना बनायी गई रोहिंग्या महिलाओं एवं लड़कियों के खिलाफ हुई यौन हिंसा शामिल हैं.

प्रमिला ने कहा कि म्यामांर के उत्तरी प्रांत रखाइन में यौन हिंसा म्यामांर के सशस्त्र बलों के आदेश पर ही हुई. ध्यान रहे इस बात का खुलासा रोहिंग्या महिलाओं के इलाज के दौरान हुआ.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE