नई दिल्ली। नौकरी करने सऊदी अरब गई मुंबई की मिस्बाह शेख वहां से निकलने के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से गुहार लगा रही है। ट्वीटर पर रो रो कर मिस्बाह ने भारत सरकार से मदद की गुहार लगाई है।

दरअसल मिस्बाह अपने ही किसी परिचित के झांसे में आकर वहां नौकरी करने गई थी लेकिन आरोप है कि नौकरी के बहाने उसका मानसिक शोषण किया गया। उसे एक साथ कई घरों में काम कराए जाते हैं और जब मिस्बाह ने घर वापस लौटने को कहा तो उससे वापस जाने के लिए पैसे मांगे गए। बता दें मिस्बाह मुंबई से सटे मीरा रोड इलाके की रहने वाली है। मिस्बाह 9 मार्च को सऊदी अरब गई थी।

महिला ने ट्विटर पर रो-रोकर सुषमा से लगाई गुहार

मिस्बाह के परिवार का दावा है कि महिला को जबरन कैद कर लिया गया है और उसे छोड़ने के लिए 10 हजार रियाल (करीब 1 लाख 80 हजार रूपए) की मांग की जा रही है। वहां जाने के लिए यात्रा खर्च के तौर पर 50 हजार रूपए भी आए थे। परिवार को उम्मीद थी कि मिस्बाह को नौकरी मिलने के बाद उनके हालात ठीक होंगे, लेकिन उनके उस वक्त होश उड़ गए जब उन्हें पता चला कि शेख ने उसे कैद कर लिया है।

उसका पासपोर्ट और दूसरे सामान छीन लिए गए हैं। दिन में एक बार बचा खुचा खाना दिया जाता है। कपड़े बदलने की भी इजाजत नहीं दी जाती। एक की जगह तीन घरों का काम कराया जाता है। मिस्बाह ने भारत वापस लौटने के लिए अपना पासपोर्ट मांगा तो उससे 10 हजार रियल की मांग की गई। (Ibn Live)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें