Pope-francis

इराकी फ़ौज द्वारा मोसूल को खूंखार आतंकी संगठन आईएसआई’एस से आजाद कराने के लिए चलाये जा रहे अभियान के दौरान दोनों पक्षों में शुरू हुई जंग को लेकर पोप फ्रांसिस ने चिता जाहिर करते हुए कहा कि इस दौरान हजारों मासूम लोग मारे जा रहे हैं.

बेगुनाहों की हत्या पर संवेदना व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि मोसूल में जो कुछ भी हो रहा है उसकी वजह से हम सबकी आखों में आंसू है और उस दर्द को बयान करने के लिए उनके पास शब्द नहीं है.

उन्होंने आगे कहा, उनकी ही धरती पर उन्हीं लोगों की निर्ममता से हत्याएं की जा रही है जिसमे मासूम बच्चे भी शामिल हैं. इस मुश्किल की घड़ी में इराक के लोगों के साथ मेरी सहानुभूति हैं.

उन्होंने आगे कहा कि इराक में लंबे समय से जारी निर्दोष लोगों की हत्याओं से उनका दिल रो रहा है फिर चाहे वो मुसलमान हों या क्रिश्चन.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें