इस्राईली विदेश मंत्रालय के महानिदेशक एवं पूर्व ज़ायोनी प्रधान मंत्री एरियल शैरून के सलाहकार रहे डोरी गोल्ग ने स्वीकार किया है कि अधिकांश अरब देशों की सरकारें इस्राईल के साथ संपर्क में हैं।इस्राईल के राष्ट्रीय सुरक्षा अध्ययन के केन्द्र में एक भाषण के दौरान, गोल्ड ने कहा कि इस्राईल क़रीब समस्त अरब देशों की सरकारों के संपर्क में है।
इस ज़ायोनी अधिकारी का कहना था कि इन संपर्कों का उसी वक़्त कोई नतीजा निकल सकता है, जब इससे संबंधित ख़बरें अख़बारों के पहले पृष्ठ पर प्रकाशित हों।गोल्ट ने उल्लेख किया कि अरब जगत में काफ़ी बड़ा परिवर्तन हो चुका है।उन्होंने कहा आज यूरोप के कुछ देशों और अधिकारियों समेत जो लोग यह कह रहे हैं कि इस्राईल अलग-थलग पड़ गया है, उन्हें पता ही नहीं वे किस बारे में बात कर रहे हैं।
गोल्ड ने इस्राईल और यूरोपीय देशों के रिश्तों में आने वाली समस्याओं की ओर संकेत करते हुए कहा, यह वास्तविकता आज किसी से ढकी छुपी नहीं है।इस्राईली अधिकारी का कहना था कि अगर अरब देश हमारे साथ इसी प्रकार से सहयोग करते रहे तो हम एक ऐसे क्षेत्र का निर्माण कर सकते हैं, जिसके बारे में आज अनुमान भी नहीं लगाया जा सकता।
और पढ़े -   मंसूर हादी यमन युद्ध के लंबा खिचने का मुख्य कारणः अमीराती राजदूत

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE