सऊदी सहित यमन, मिस्र, बहरीन यूएई द्वारा क़तर से रिश्ते तोड़े जाने को लेकर तुर्की, कुवैत के बाद अब मोरक्को ने भी इस मामलें में मध्यस्था की पेशकश की है.

मोरक्को के अंतर्राष्ट्रीय सहयोग और विदेश मंत्रालय ने सुलतान मोहम्मद VI के हवाले से रविवार को बयान जारी कर काहा कि उनका देश इस संकट में “रचनात्मक और तटस्थ” भूमिका निभाने के लिए तैयार है.

और पढ़े -   तुर्की और ईरान उठाएंगे रोहिंग्या मुद्दा, 'सू की' ने रद्द किया UN का दौरा

यदि सभी पक्षों की इच्छा है तो मोरक्को का राज्य आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप और धार्मिक उग्रवाद के खिलाफ लड़ाई के आधार पर एक स्पष्ट और व्यापक वार्ता को बढ़ावा देने के लिए अपनी सेवाएं देने के लिए तैयार है.

बयान में कहा गया कि ने सुलतान की और से सभी पक्षों को तनाव कम करने के लिए और इस संकट से उबरने के लिए अक्ल से काम लेने की  बात कही है. उन्होंने कहा, मोरक्को एक रचनात्मक निष्पक्षता का समर्थन करता है.

और पढ़े -   सयुंक्त राष्ट्र के प्रतिबंधो के जवाब में उत्तरी कोरिया ने जापान पर दागी मिसाइल

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE