इस्लाम धर्म की तीसरी सबसे पवित्र मस्जिद अल-अक्सा में रमजान के तीसरे जुमे पर 3 लाख से ज्यादा मुसलमानों ने की नमाज अदा की है. इजराइल की और कड़ी रोक के बावजूद इतनी बड़ी संख्या में लोगों ने नमाज अदा की है.

याद रहे इजराइल ने अल-अक्सा मस्जिद में 40 वर्ष से कम आयु के पुरुषों के अल अक्सा में नमाज अदा करने पर रोक लगा रखी है. रमजान के दौरान, इज़रायल के अधिकारियों ने 40 से अधिक आयु के पुरुषों और 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को को बिना परमिट आने की अनुमति दी जिसकी आमतौर पर चौकियों को पार करने और क्षेत्र से बाहर निकलने के लिए जरुरत होती है.

और पढ़े -   जस्टिन टड्रो ने सू की से बात कर रोहिंग्या मुस्लिमों का खिलाफ हिंसा रोकने की मांग की

फिलिस्तीनी धार्मिक मामलों और अल-अकसा मामलों के डायरेक्टर जनरल शेख अज्जम अल-खतिब ने अल-अकसा में शुक्रवार की नमाज में भाग लेने वालों की संख्या करीब 2,50,000 के आसपास बताई. उन्होंने कहा, पश्चिमी तट और गाजा पट्टी से लगभग 150,000 फिलीस्तीनी रोज तरावीह की नमाज भी अदा कर रहे है.

वेस्टिन शहर जेनिन के एक 40 वर्षीय फिलिस्तीनी सलीम सबाना ने कहा कि वे पहली बार बचपन में अल-अकसा मस्जिद में आये थे, जिसके बाद वे अब आये है. उन्होंने बताया कि वे 30 साल से इस पल का इंतजार कर रहे थे.

और पढ़े -   सयुंक्त राष्ट्र के प्रतिबंधो के जवाब में उत्तरी कोरिया ने जापान पर दागी मिसाइल

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE