imr

शुक्रवार रात को पाकिस्तान की विपक्षी पार्टी तहरीक ए इन्साफ के प्रमुख पूर्व क्रिकेटर इमरान खान ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की और दोस्ताना हाथ बडाया हैं. उन्होंने कहा कि दो परमाणु ताकतों के बीच जजंग किसी समस्या का हल नहीं.

लाहौर में एक बड़ी रैली को संबोधित करते हुए इमरान ने  कहा, ‘हम शांति चाहते हैं. हम दोस्ती के लिए तैयार हैं यदि आप (मोदी) की इच्छा हो तो. मैं शांति की पेशकश करता हूं क्योंकि युद्ध समस्याओं का कोई हल नहीं है.’

और पढ़े -   म्यांमार ने रोहिंग्याओं को भेजकर हमारे खिलाफ युद्ध की घोषणा की: बांग्लादेश

उन्होंने आगे कहा कहा कि जब वह नरेंद्र मोदी से भारत में मिले थे तो उनसे कहा था कि दोनों देशों के बीच शांति प्रक्रिया को लोगों का एक छोटा समूह पटरी से उतारना चाहता है. लेकिन जब उरी घटना हुई तो भारत ने बगैर जांच के पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहरा दिया और मोदी ने पाकिस्तान को धमकी देनी शुरू कर दी.

और पढ़े -   ट्रम्प की धमकियों पर उत्तरी कोरिया ने कहा - कुत्ते की तरह भौंकते रहे, नहीं डरने वाले

इमरान ने मोदी से पानी रोकने और सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में बात नहीं करने की गुजारिश करते हुए कहा, पाकिस्तान एकजुट है और किसी भी आक्रमण के लिए अपनी सेना के साथ खड़ा रहेगा. हर पाकिस्तानी नवाज शरीफ की तरह कायर नहीं है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE