नई दिल्ली: न्यू इयर ईव पर जर्मनी के कोलोन हेमबर्ग और स्टुटगार्ड शहरों में महिलाओं के साथ हुए सामुहिक बलात्कार काण्ड की जांच रिपोर्ट ने चांसलर एंजेला मार्केल की नींद हराम कर दी है। सामुहिक रेप काण्ड की शिकार लड़कियों ने एक जर्मन टीवी चैनल को रोते हुए बताया कि हम लोग रोते-गिड़गिडा़ते रहे लेकिन वो दरिंदों की भीड़ हमें नोचती रही। उन्होंने हमें हर तरह लूटा और खसोटा भी। दुश्कर्म के अलावा उन्होंने मार-पीट की। जलते हुए पटाखे हमारे कपड़ों में अंदर डाल दिये।

और पढ़े -   फिलिस्तीन का साथ देने पर सऊदी और उसके घटक देश दे रहे क़तर को सज़ा

ऐसा समझा जाता है कि मर्केल को भेजी गयी रिपोर्ट में कहा गया है कि जर्मन महिलाओं के साथ सामुहिक बलात्कार एक सुनियोजित अपराध है। ‘डेली मेल डॉट को डॉट यूके’ में छपी खबरके मुताबिक एक साथ कई शहरों में एक जैसी वारदात होना सामान्य अपराधिक घटना नहीं है। हालांकि जर्मनी की चांसलर एंजेला मार्केल ने दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कदम उठाने के निर्देश दिये हैं, लेकिन लोगों का गुस्सा खत्म नहीं हो रहा है।

और पढ़े -   कार की पिछली सीट पर कर रहते थे सेक्स, गाडी के झील में जाने से दोनों की मौत

टीवी चैनल्स पर लड़कियों की आपबीती सुनने के बाद लोगों मे शरणार्थियों के खिलाफ आक्रोश बढता जा रहा है।

साभार: न्यूज़ 24


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE