सऊदी अरब की यात्रा के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति इजराइल की एक दिवसीय यात्रा पर पहुंचे. यहाँ से फारिग होकर वे सीधे वेटिकेन सिटी पहुंचे. इस दौरान डोनल्ड ट्रम्प की पत्नी और बेटी का हिजाब में रहना चर्चा में रहा. बावजूद इसके दोनों ने सऊदी अरब में हिजाब को नजरअंदाज किया था.

सऊदी अरब में मेलानिया और ईवानका ट्रम्प के पहनावे को लेकर आलोचना हो रही है. साथ ही सऊदी हुकूमत पर भी सवाल उठ रहे है. दरअसल सऊदी अरब में इस्लामिक कानून के अनुसार महिलाओं को सार्वजनिक रूप से हिजाब पहनना अनिवार्य है.

और पढ़े -   चीन-भारत तनाव ईरान पहुंचा, चीनी कंपनी ने सभी भारतीय कर्मचारी को नौकरी से निकाला

डोनल्ड ट्रम्प की पत्नी मेलानिया स्लोवेनियाई मूल की और कैथोलिक ईसाई हैं. जब वे और उनकी बेटी बुधवार को वेटिकन में सर्वोच्च ईसाई धर्मगुरू पोप फ़्रान्सिस से मुलाक़ात के लिए पहुंची तो इस दौरान दोनों ने अपने सिर काले रंग के स्कार्फ़ और हुड से ढांक रखे थे.

वेटिकेन दौरे की तस्वीरें सामने आने के बाद सऊदी हुकूमत की आलोचना हो रही है. साथ ही सवाल उठ रहा है कि आखिर सऊदी हुकुमत के आगे अमरीकी रिश्तों को लेकर क्या इस्लामिक कानून की कोई अहमियत नहीं रही.

और पढ़े -   यमन युद्ध में मरने वाले 50 प्रतिशत बच्चे सऊदी हमलों में मरे: सयुंक्त राष्ट्र

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE