जी-20 सम्मेलन में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के हिस्सा लेने की खबर के बाद जर्मनी में बड़े पैमाने पर प्रदर्शन शुरू हो गए है. इन प्रदर्शनों ने हिंसक रूप धारण कर लिया है.

हैम्बर्ग में भूमंडलीकरण के खिलाफ 12,000 लोग शांतिपूर् प्रदर्शन कर रहे थे, लेकिन पुलिस के बल प्रयोग के बाद ये प्रदर्शन हिंसक हो गया. पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक सात पुलिस अधिकारियों और दो प्रदर्शनकारियों सहित 9 लोग घायल हो गए हैं.

और पढ़े -   फिलिस्तीन-इजरायल संघर्ष पर अमेरिका का रुख नहीं समझ पा रहे: फिलिस्तीनी पीएम

हालांकि पुलिस का कहना है कि प्रदर्शन में हजार की तादाद में नकाबपोश लोग आकर शामिल हुए. जब पुलिस ने लाउडस्पीकर से नकाब हटाने के लिए कहा तो उन्होंने हिंसा शुरू कर दी.

हिंसक प्रदर्शन के बाद मुख्य मार्च ‘वेलकम टू हेल’  को वापस ले लिया गया लेकिन हजारों लोग रात होने तक यहां डटे रहे. दो दिवसीय जी20 सम्मेलन में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग भाग ले रहे हैं.

और पढ़े -   स्पेन में आतंकी हमलों के खिलाफ मुस्लिमों का प्रदर्शन, कहा - इस्लाम आतंकवाद के खिलाफ

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE