रोहिंग्या मुस्लिमो के खिलाफ हिंसा को लेकर दुनिया भर में विशेषकर इस्लामिक देशों में म्यांमार के खिलाफ काफी रोष है. इसी कड़ी में मालद्वीप ने म्यांमार से अपने सभी सबंध समाप्त करने की घोषणा की है.

मालदीव के विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक़ मालदीव ने म्यांमार से रोहिंग्या मुसलमानों पर इस देश की सेना और चरमपंथी बौद्धों द्वारा किए जा रहे अत्याचारों पर विरोध जताते हुए अपने व्यापारिक संबंधों को ख़त्म कर दिया.

इसके अलावा मालदीव ने व्यपारिक संबंधों को समाप्त करने के साथ ही संयुक्त राष्ट्र में म्यांमार में रोहिंग्या मुसमलानों की दयनीय स्थिति पर नोटिस लेने की भी मांग की है.

मालदीव के विदेश मंत्री ने बल देकर कहा कि म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों के जारी नरसंहार को जल्द रोकना चाहिए. मालदीव सरकार ने म्यांमार के साथ सभी व्यापारिक संबंधों को भी समाप्त करने का निर्णय लिया है.

मालदीव सरकार ने अपने बयान में कहा कि जब तक कि म्यांमार सरकार रोहिंग्या मुस्लिमों के खिलाफ किए जा रहे अत्याचारों को रोकने के लिए उपाय नहीं करती है. म्यांमार के साथ सभी व्यापारिक संबंध समाप्त रहेंगे.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE