मलेशिया ने रोहिंग्या मुसलमानों को शरण देने की घोषणा की है. मलेशिया ने एेलान किया है कि वे रोहिंग्या मुसलमान जो, म्यांमार सरकार के अमानवीय अपराधों से बचकर भाग रहे हैं उन्हें वह शरण देने के लिए तैयार है. ऐसे ही घोषणा पड़ोसी देश थाईलैण्ड की ओर से भी की जा चुकी है.

मलेशिया के तटरक्षक बलों के प्रमुख ज़ुलकिफ़ीली बिन अबूबक्र ने कहा है कि वे निर्दोष रोहिंग्या मुसलमान जो म्यांमार की सरकार और चरमपंथी बौद्ध भिक्षुओं के अत्याचारों से बचकर भार रहे हैं उनको मलेशिया में शरण दी जाएगी.

उन्होंने कहा कि रक्तपात से बचकर भागने वाले रोहिंग्या मुसलमानों को हम शरण दे सकते हैं. वर्तमान समय में मलेशिया ने लगभग एक लाख रोहिंग्या मुसलमानों को शरण दे रखी है.

वहीँ इंडोनेशिया ने रोहिंग्या मुस्लिमों की मदद कर रहे बांग्लादेश के बोझ को कम करने के लिए मदद का हाथ आगे बढ़ाया है. इस की घोषणा इंडोनेशिया की विदेशमंत्री ने अपनी बांग्लादेश यात्रा के दौरान की.

उन्होंने कहा, राष्ट्रपति जोको विडोडो के निर्देशों के मुताबिक, इंडोनेशिया बांग्लादेशी सरकार को इस मानवतावादी संकट से निपटने में अपने बोझ को कम करने के लिए समर्थन दे रहा है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE