लंदन: रिपब्लिकन पार्टी की ओर से अमेरिका के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बनने की दौड़ में सबसे आगे चल रहे डोनाल्ड ट्रम्प ने आज यह कहकर एक नया विवाद शुरू कर दिया कि ब्रिटेन में रहने वाले मुसलमान संदिग्ध आतंकियों की ‘बिल्कुल भी जानकारी’ नहीं दे रहे। उनके इस आरोप को ब्रिटेन के एक शीर्ष आतंकवाद रोधी पुलिस अधिकारी ने खारिज कर दिया।

trump defeated

 ट्रम्प ने बेल्जियम की राजधानी ब्रसेल्स में कल हुए बम विस्फोटों के बाद आईटीवी से कहा, मैं यहां के और अमेरिका के भी मुसलमानों से कहूंगा कि वे जब भी कोई गड़बड़ी देखें तो उसकी जानकारी दें। वे जानकारी नहीं देते, वे बिल्कुल भी जानकारी नहीं देते और यह एक बड़ी समस्या है। ब्रसेल्स में आतंकी हमलों में 30 से अधिक लोग मारे गए और 250 से अधिक घायल हो गए।

ट्रम्प ने राष्ट्रपति पद के अभियान के दौरान इस्लाम और मुसलमानों को लेकर भड़काउ दावे किए हैं जिसे देखते हुए कल उनसे पूछा गया कि वह ब्रिटेन के मुसलमानों से क्या कहेंगे जिसके जवाब में उन्होंने यह विवादित टिप्पणी की। उन्होंने कहा, वे एक दूसरे को बचा रहे हैं, वे सच में बहुत बड़ी क्षति पहुंचा रहे हैं, उन्हें समाज में खुलना होगा और बुरे लोगों की जानकारी देनी होगी। ब्रिटेन के एक शीर्ष आतंकवाद रोधी पुलिस अधिकारी और मुस्लिम काउंसिल ऑफ ब्रिटेन (एमसीबी) ने ट्रम्प के बयान की निंदा की।

उप सहायक आयुक्त नील बासु ने बीबीसी रेडियो से कहा कि ट्रम्प की टिप्पणी गलत है और इससे घृणा अपराध बढ़ सकते हैं। एमसीबी के सहायक महासचिव मिकदाद वरसी ने कहा कि ट्रम्प की टिप्पणी ‘कट्टरता के विचार को बढ़ावा’ देती है और आतंकी यही चाहते हैं।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें