लेबनानी प्रधानमंत्री साद हरीरी के इस्तीफे के चलते मध्य-पूर्व में एक बड़ा संकट सामने आ गया है. जो दिन-प्रतिदिन गहराता जा रहा है. इसी बीच अब खबर आ रही है कि जल्द ही फ़िलिस्तीनी प्रशासन के प्रमुख महमूद अब्बास भी इस्तीफा दे सकते है.

टाइम्स ऑफ़ इस्राईल की रिपोर्ट के अनुसार, अब्बास पर सऊदी अरब की और से इस्तीफे का दबाव है. क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान ने अब्बास पर फिलिस्तीन के सबंध में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की नीति को स्वीकार करने को कहा है.

प्रिंस के कार्यालय की और भेजे गए संदेश में कहा गया कि वे रियाद आकर ट्रम्प की शांति योजना को स्वीकार कर लें, अगर वह इस शांति योजना को स्वीकार नहीं करते हैं तो उनको अपने पद से इस्तीफ़ा देना पड़ेगा. इसके साथ ही अब्बास पर फ़िलिस्तीनी प्रशासन इ और से ईरान और हिज़्बुल्लाह पर प्रतिबंध लगाने का भी दबाव बनाया गया है. हालांकि इस खबर को फिलिस्तीनी प्रशासन ने खारिज किया है.

अब्बास फतह पार्टी के एक प्रवक्ता, ओसामा कवामाहे ने कहा कि हम पूरी तरह से इजरायल की रिपोर्ट को अस्वीकार करते हैं. यह बिल्कुल सही नहीं है. सऊदी में अब्बास की बैठक सकारात्मक थी.

उन्होंने कहा, सऊदी ने जून 1967 की सीमाओं पर फिलीस्तीन स्थिति के लिए समर्थन व्यक्त किया, जो अंतरराष्ट्रीय कानून के अनुसार बनाया गया  दो राज्य का समाधान है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE