पेरिस : ईरान के राष्ट्रपति हसन रोहानी और फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के बीच होने वाला लंच गुरुवार को रद्द हो गया। इसकी वजह आप जानेंगे तो हैरान रह जाएंगे। दरअसल, ईरान की ओर से लंच में हलाल मीट की मांग पूरी नहीं हो पाई। वहीं फ्रांस ने मैन्यू से वाइन हटाने से इनकार कर दिया था।

डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक दोनों राष्ट्रपतियों को पेरिस के एक रेस्त्रां में लंच करना था। लेकिन लंच में कौन सी पीने की आइटम रखी जाए, इस पर सहमति नहीं बन सकी। रिपोर्ट के मुताबिक ईरानी अधिकारी मुस्लिम रिवाजों के अनुसार हलाल मीट परोसे जाने की मांग कर रहे थे। वहीं फ्रांस स्थानीय फूड और वाइन परोसने पर ज़ोर दे रहा था।

और पढ़े -   पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की शर्मनाक हरकत, स्वदेश लौटी महिला खिलाडी को बाइक पर जाना पड़ा अपने घर

रिपोर्ट में ओलांद के दफ्तर के उस बयान का हवाला दिया गया है जिसमें कहा गया है कि ईरान की सुविधाओं को ध्यान में रखकर परोसा जाने वाला खाना फ्रांस के गणतांत्रिक मूल्यों के ख़िलाफ़ होगा।

मेन्यू पर आखिर तक सहमति नहीं बनने की वजह से इसे रद्द कर दिया गया। इसके बदले ब्रेकफास्ट का सुझाव दिया गया। लेकिन ईरानी राष्ट्रपति ने कथित तौर पर खाने को खराब बताकर ब्रेकफास्ट से इनकार कर दिया।

और पढ़े -   बड़ा खुलासा: नेतन्याहू के साथ 2012 में यूएई विदेश मंत्री ने की थी गुप्त बैठक

परमाणु कार्यक्रम से संबंधित बैन हटने के बाद रोहानी इन दिनों यूरोप के दौरे पर हैं। इससे पहले जब वे इटली गए थे तो वहां की सरकार ने प्राचीन काल की महिलाओं की मूर्तियों को ढकने का आदेश दिया था। इसको लेकर इटली के पीएम मातेओ रेंजी की काफी आलोचना हुई थी कि उन्होंने देश की सांस्कृतिक पहचान को लेकर समझौता किया। (NEWS 24)

और पढ़े -   मस्जिदुल अक्सा को लेकर फिलिस्तीनी प्रशासन ने इजरायल से सभी सबंध तोड़े

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE