इजराइल जेलों में अत्याचार को लेकर फिलिस्तीनी बंदी भूख हडताल पर बेठे हुए हैं. ऐसे में उनके समर्थन में लेबनानी बंदियों ने भी भूख हड़ताल शुरू कर दी हैं. इसके अलावा लेबनानी जनता ने बैरूत में संयुक्त राष्ट्र संघ के मुख्यालय के सामने प्रदर्शन करना भी शुरू कर दिए हैं.

लेबनान के अलमनार टीवी चैनल की रिपोर्ट के अनुसार फ़िलिस्तीनी बंदियों के समर्थन में प्रदर्शन करने वाले एमाद ख़शमान ने कहा कि लेबनान का इस्लामी प्रतिरोध आंदोलन, ज़ायोनी शासन की जेल में भूख हड़ताल कर रहे फ़िलिस्तीनी बंदियों के साथ सहृदयता व्यक्त करता है ताकि फ़िलिस्तीनी बंदी अपनी मांगों को पूरा करा सकें.

और पढ़े -   डोनाल्ड ट्रंप की धमकी पर किम जोंग ने कहा - 35 लाख कोरियाई युद्ध के लिए है तैयार

इस विरोध प्रदर्शन में शामिल लोगों ने फ़िलिस्तीनी बंदियों के विरुद्ध ज़ायोनी शासन के बुरे व्यवहार के बारे में जो अपने मूलभूत अधिकारों से भी वंचित हैं, संयुक्त राष्ट्र संघ और अरब देशों के मौन की कड़े शब्दों में आलोचना की.

फ़िलिस्तीन की स्वतंत्र के लोकतांत्रिक मोर्च की राजनैतिक शाखा के सदस्य अली फ़ैसल ने इस प्रदर्शन में इस्राईल के साथ संबंधों को सामान्य बनाने के लिए अरब देशों के प्रयासों को लज्जाजनक बताया.

और पढ़े -   शाह सलमान ने कत्तरी हाजियों के लिए सलवा बॉर्डर को खोलने का दिया आदेश

इसी प्रकार फ़िलिस्तीन की समाचार एजेन्सी मअन ने रिपोर्ट दी है कि जार्डन नदी के पश्चिमी तट और बैतुल मुक़द्दस में भेजी गयी यूरोपीय संघ के प्रतिनिधि मंडल ने इस्राईल की जेल में बंद भूख हड़ताल कर रहे फ़िलिस्तीनियों के स्वास्थ्य पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि यूरोपीय संघ बंदियों के मानवाधिकारों का सम्मान करने और अंतर्राष्ट्रीय नियमों पर प्रतिबद्धता की आवश्यकता पर बल देता है.

और पढ़े -   अमेरिका और ब्रिटेन ने सीरिया में आतंकियों को दिए ज़हरीले बमः रूस

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE