अली को अंतिम विदाई

‘दी ग्रेट’ मोहम्मद अली  को आख़िरी सलाम करने के लिए शुक्रवार को हज़ारों लोग उनके गृहनगर केंटकी के लुईविले पहुंचे. हेवी वेट चैंपियन और मानवाधिकारों के लिए मुखर रहने वाले मोहम्मद अली का दो दिवसीय अंतिम संस्कार गुरुवार को फ्रीडम हॉल में शुरू हुआ, जहां उन्होंने अपने मुक्केबाजी करियर के शुरुआती दिनों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया था. उनके जनाजे में शामिल होने के लिए करीब 14,000 नि:शुल्क टिकट बांटे गए थे.

अली को अंतिम विदाई

अली को आख़िरी विदा कहने पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन सहित अभिनेता विल स्मिथ और पूर्व मुक्केबाज़ माइक टाइसन और लेनॉक्स लिव्समौजूद रहे। इस दौरान अली के नौ बच्चे, उनकी पत्नी, दो पूर्व पत्नियां और परिवार के अन्य सदस्य भी इस काफिले के साथ थे। अली ने वर्षों पहले खुद फैसला किया था कि उनके अंतिम संस्कार को सिर्फ वीआईपी के लिए नहीं, बल्कि आम प्रशंसकों के लिए भी खुला रखा जाए, जिसके कारण हजारों मुफ्त टिकट बांटे गए जो कुछ ही घंटों में खत्म हो गए।

अली को अंतिम विदाई

अली के जनाज़ा में अली के प्रशंसकों ने उनके जनाज़ा पर  फूल और गुलाब की पंखुड़ियां भी फेंकी। इस दौरान कुछ लोग ‘अली! अली!’ चिल्ला रहे थे, जबकि अन्य अपने चैम्पियन को जाते हुए देखकर गम में खामोश थे.

अली को अंतिम विदाई

मोहम्मद अली किले के दफ्न समारोह में भाग लेने के लिए विश्व के कोने- कोने से अमेरिका गये हज़ारों मुसलमानों ने उनकी नमाज़े जनाज़ा पढ़ी और नमाज़े जनाज़ा के बाद मोहम्मद अली किले को उनके पैतृक नगर लूइसविल में दफ्न कर दिया गया.

उनकी नमाज़े जनाज़ा पढ़ाने वाले इमाम ज़ाएद शाकिर ने उनके दफ्न समारोह में भाग लेने वाले मुसलमानों और ग़ैर मुसलमानों के प्रति आभार व्यक्त किया.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें