debate3

वाशिंगटन | अमेरिकी राष्ट्रपति पद के दोनों उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प और हिलेरी क्लिंटन के बीच आखिर बहस ख़त्म हो गयी है. इस बहस में दोनों के बीच काफी गरमा गर्मी दिखाई दी. दोनों ने एक दुसरे को दुनिया का सबसे खतरनाक प्रत्याशी बताया. जहाँ ट्रम्प ने कट्टर इस्लामी आतंकवाद के खात्मे की बात कही वही हिलेरी ने अमेरिका की सीमाए सबके लिए खोलने का समर्थन किया.

डिबेट की शुरुआत होने के समय दोनों प्रत्याशियों ने एक दुसरे से हाथ नही मिलाये. डिबेट की शुरुआत सुप्रीम कोर्ट के जजों के ऊपर हुई. हिलेरी ने कहा की मैं इस पक्ष में हूँ की सुप्रीम कोर्ट को अमेरिकी नागरिको का पक्ष लेना चाहिए न की आमिर लोगो का. वही डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा की मैं राष्ट्रपति बनते ही 20 जजों की नियुक्ति करूँगा. मैं उन लोगो को जज नियुक्त करेगा जो संसोधन की रक्षा कर सके.

प्रवासियों के मुद्दे पर ट्रम्प ने कहा की मैं अमेरिका की सीमाए सुरक्षित करने का पक्षधर हूँ. मैं अमेरिका की सीमओं पर दीवार बनवाना चाहता हूँ. राष्ट्रपति बनते ही मैं देश से कुछ दुष्ट प्रवासियों को बाहर फेंकूंगा. सीरिया से और अन्य जगह से लोगो यहाँ आ रहे है जिससे कट्टरवादी इस्लाम को बढ़ावा मिल रहा है, हमें इसे रोकना होगा. इस पर हिलेरी ने ट्रम्प की दलील को ख़ारिज करते हुए कहा की यहाँ कानून का राज है.

हिलेरी ने ट्रम्प को पुतिन का चमचा बताते हुए कहा की ट्रम्प चुनाव में भी पुतिन की मदद ले रहे है. इस पर ट्रम्प ने कहा की पुतिन मेरा अच्छा मित्र नही है लेकिन अगर दोनों देश साथ आते है तो इसमें कोई बुराई नही है. हिलेरी ने ट्रम्प पर आरोप लगाया की वो देश की ख़ुफ़िया एजेंसी के बजाय पुतिन पर ज्यादा यकीन करते है. इस पर ट्रम्प ने कह की हिलेरी पुतिन से इसलिए चिढती है क्योकि पुतिन ने अमेरिका को हर कदम पर पीछे छोड़ा है.

एक समय ऐसा आया जब हिलेरी ने ट्रम्प को दुनिया का सबसे खतरनाक प्रत्याशी कह दिया. इसका जवाब देते हुए ट्रम्प ने कहा की मैं हिलेरी के लिए भी ऐसा कह सकता हूँ क्योकि वो अगर अमेरिका के लिए सही नही है तो वो दुनिया के लिए भी खतरनाक है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें