abd

उडी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच बड़ते तनाव में भारत के पाकिस्तानी राजदूत अब्दुल बासित ने कशमीर समस्या की और इशारा करते हुए कहा कि जंग किसी मामले का समाधान नहीं हैं.

कोलकाता के अखबार ‘टेलीग्राफ’ को दिए इंटरव्यू में उन्होंने उड़ी आतंकी हमले में पाकिस्तान का हाथ होने से इंकार करते हुए कहा, ”मैं बताना चाहता हूं कि पाकिस्तान का इस हमले से कोई लेना-देना नहीं है.’  भारत की ओर से पाकिस्तान को आतंकवादी मुल्क कहे जाने पर बासित ने कहा- “वह महज जुमलेबाजी है. हम भी ऐसे शब्दों का इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन उससे कोई मकसद हल नहीं होता। दो देशों के रिश्ते जुमलेबाजी से नहीं चलते.”

और पढ़े -   अमेरिका नहीं चाहता अफगानिस्तान में आतंकवाद का खात्मा और शांति: हामिद करज़ई

कश्मीर के मुद्दे पर बासित ने कहा, ‘हमारी किसी क्षेत्र पर दावा करने की न तो इच्छा है और न ही हमारा नजरिया ऐसा है. हम तो यह कहना चाहते हैं कि जम्मू-कश्मीर के लोगों को अपना भविष्य तय करने के लिए बेहतर मौका मिलना चाहिए. अगर वे भारत के साथ खुश हैं और वहां से जुड़ा महसूस करते हैं तो वैसे ही रहें. पाकिस्तान को कोई समस्या नहीं है. लेकिन अपना भविष्य तय करना कश्मीर का हक है. कश्मीर महज एक क्षेत्र भर नहीं है. यह किसी इलाके को लेकर विवाद भर नहीं है. यहां 1 करोड़ 20 लाख लोगों की जिंदगी का सवाल है.’

और पढ़े -   एशिया में अमरीकी अपराध, फिलिपीन्स के सेक्स व्यापार में अमरीकी हिस्सेदारी

पाकिस्तान हाफिज सईद और सैयद सलाउद्दीन को भारत के खिलाफ जहर उगलने की इजाजत क्यों देता है? इस पर बासित ने कहा कि ऐसी आवाजें भारत में भी उठती हैं, लेकिन पाकिस्तान या भारत की पॉलिसी लोगों के आग उगलते भाषणों से नहीं तय होतीं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE