trumph

अमेरिकी राष्ट्रपति पद के रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप ने यहूदी समुदाय के लोगों से यरूशलम को इजराइल की राजधानी बनाने का वादा किया हैं.

ट्रंप ने गुरुवार रात कहा, ‘‘मैंने कई मौकों पर कहा है कि ट्रंप के प्रशासन में, अमेरिका यरूशलम को इजराइल की वास्तविक राजधानी के रूप में मान्यता देगा।’’  उन्होंने आगे कहा, ‘‘यरूशलम यहूदी लोगों की चिरस्थायी राजधानी है और कांग्रेस के भारी बहुमत ने यरूशलम को इस रूप में मान्यता देने के लिए मतदान किया है।’’

और पढ़े -   न्यूयॉर्क टाइम्स ने पीएम मोदी को साम्प्रदायिकता फैलाने के लिए जिम्मेदार ठहराया

ट्रंप ने ओबामा प्रशासन का ‘यरूशलम’ के बाद ‘इजराइल’ शब्द हटाने का फैसलें को इजराइल के दुश्मनों के आगे आत्मसमर्पण बताते हुए कहा कि यह शिमोन पेरेज की मृत्यु के बाद उनका अपमान था जिनका ओबामा सम्मान करने की कोशिश कर रहे थे।

उन्होंने कहा, ‘‘ट्रंप के प्रशासन में, इजराइल को अमेरिका के रूप में एक सच्चा, वफादार और स्थायी मित्र मिलेगा।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि इजराइल को यरूशलम से अलग करने की संयुक्त राष्ट्र की कोशिश यरूशलम के साथ इजराइल के 3000 साल पुराने संबंध को नजरअंदाज करने का एक पक्षीय प्रयास है।

और पढ़े -   इजराइल के ‘युद्ध अपराधों’के खिलाफ फ़िलिस्तीनियों ने खटखटाया अंतरराष्ट्रीय न्यायालय का दरवाजा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE